Hindustanmailnews

Author name: Hindustanmailnews

जांच समिति की पड़ताल शुरूहा​थ लगे महत्वपूर्ण सुराग

नगर निगम के ड्रेनेज विभाग में हुए 28 करोड़ 76 लाख रुपए के फर्जी बिल घोटाले की नगर निगम स्तर पर जांच शुरू हो गई है। उच्च स्तरीय समिति द्वारा फर्मों के अलावा कुछ अफसर व कर्मचारियों की भी जांच की जा रही है। जांच के तहत पूछताछ किए जाने के साथ दस्तावेजों को भी खंगाला जा रहा है। जांच के दौरान कुछ महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे है।
फजीर्वाड़े से जुड़ी कई फाइल व बिलों को समिति ने अपने कब्जे में ले लिया है। जांच के चलते फर्मों के खातों को सील कर उन्हें ब्लेक लिस्ट कर दिया गया है। निगमायुक्त शिवम वर्मा ने समिति को 15 दिनों में जांच पूरी कर प्रतिवेदन सौंपने को कहा है।
उल्लेखनीय है कि ड्रेनेज विभाग के तहत 5 फर्मों द्वारा बिना काम के फर्जी बिल तैयार कर लेखा विभाग में भुगतान के लिए प्रस्तुत किए गए थे। इन 5 फर्म जिनमें मेसर्स नींव कंस्ट्रक्शन प्रोयरायटर मोहम्मद साजिद, मेसर्स ग्रीन कंस्ट्रक्शन प्रोयरायटर मोहम्मद सिदिकी, मेसर्स किंग कंस्ट्रक्शन प्रोपरायटर मो. जाकिर, मेसर्स क्षितिज इंटरप्राइजेस प्रोपरायटर रेणु वडेरा एवं मेसर्स जहान्वी इंटरप्राइजेस प्रोपरायटर राहुल वडेरा शरीक है।
इन फर्मो द्वारा 28 करोड़ से ज्यादा के 20 पे आॅर्डर आॅडिट के पश्चात लेखा शाखा में प्रस्तुत किये गये थे। लेखा शाखा में प्राप्त उक्त पे आॅर्डर की प्रारंभिक जांच करने पर उक्त पे आॅर्डर में अधिक राशि के होने एवं मात्र 5 फर्म के होने से देयको के संबंध में शंका उत्पन्न हुई। उक्त प्रकरण की प्रथम दृष्टया जांच में प्रकरण फर्जी हस्ताक्षर एवं कुटरचित दस्तावेज के आधार पर तैयार किया जाना पाया गया था।
अन्य नगरीय निकाय भी जांच के दायरे में- इंदौर नगर निगम फर्जी बिल कांड सामने आने के बाद प्रदेश के अन्य नगरीय निकायों में हुए कार्य भी जांच के दायरे में आ गए हैं।
नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने प्रमुख सचिव को जांच के लिए कहा है। इन निकायों में पिछले पांच वर्षों में विभिन्न प्रोजेक्ट के तहत हुए विकास कार्यों और उनके एवज में किए गए भुगतान की जांच की जाएगी।

17 जिलों में बारिश की संभावना, 25 से भीषण गर्मी का अनुमान

वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) के एक्टिव होने से मध्यप्रदेश में आंधी और बारिश का दौर चल रहा है। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे, यानी सोमवार को जबलपुर, छिंदवाड़ा समेत 17 जिलों में बारिश होने का अनुमान जताया है।
भोपाल के सीनियर वैज्ञानिक डॉ. वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि प्रदेश में अगले 2 दिन गरज-चमक के साथ हल्की बारिश होगी। इसके बाद मौसम साफ हो जाएगा। 25 अप्रैल से तेज गर्मी पड़ेगी। जिन शहरों में अभी 40-42 डिग्री टेम्प्रेचर है, वहां 42 से 44 डिग्री तक पहुंच जाएगा। रातें भी गर्म रहेंगी। वहीं, उमस का असर भी दिखाई देगा।
पिछले 3 दिन से कई जिलों में हल्की बारिश हो रही है। रविवार को पूरे दिन तेज गर्मी के बाद शाम को कई जिलों में मौसम बदल गया। भोपाल, रायसेन और नर्मदापुरम में तेज बारिश भी हुई।
भोपाल में रविवार को दिनभर गर्मी रही और टेम्प्रेचर 37.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। शाम को मौसम अचानक बदला और बारिश शुरू हो गई। कई इलाकों में 10 से 15 मिनट तक तेज बारिश हुई। नर्मदापुरम में भी गरज-चमक के साथ पानी गिरा। इटारसी में तो 15 से 20 मिनट तक बारिश हुई, जिससे शहर की सड़कें तरबतर हो गईं।
खरगोन के बड़वाह में भी पानी गिरा। मौसम बदलने से यहां बिजली सप्लाई भी प्रभावित हुई। रात में इंदौर, बड़वानी, सीहोर, हरदा, बैतूल, दमोह, सागर, विदिशा, बुरहानपुर, रायसेन, नरसिंहपुर में भी मौसम बदला रहा। मौसम विभाग के अनुसार, वर्तमान में एक वेस्टर्न डिस्टरबेंस (पश्चिमी विक्षोभ) एक्टिव है। इस वजह से बूंदाबांदी और आंधी का दौर है। ऐसा ही मौसम अगले 2 दिन और बना रहेगा। आज जबलपुर, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, खंडवा, बैतूल, नर्मदापुरम, रायसेन, बालाघाट, मंडला, कटनी, मैहर, उमरिया, डिंडोरी, शहडोल और अनूपपुर जिलों में व कल बैतूल, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा, सिवनी, बालाघाट, मंडला और डिंडोरी जिलों में बारिश की संभावना है।

70 प्रतिशत ट्रेनों में डेढ़ महीने तक की वेटिंग, परेशानियों से गुजर रहे यात्री

अगर आप गर्मी की छुट्टियों में बाहर जाना चाहते हैं, तो यह खबर आपके लिए है… भोपाल से अन्य राज्यों में जाने वाली ट्रेनों वेटिंग चल रही है। रेलवे ने कई स्पेशल ट्रेनें भी चलाईं हैं, उनमें भी भारी वेटिंग चल रही है। भोपाल से दिल्ली, मुंबई, जयपुर, पुणे, जम्मू, पंजाब और बिहार जाने वाली कई ट्रेनों में अधिकतम 2 महीनों तक की वेटिंग चल रही है और यही स्थिति स्पेशल ट्रेनों की भी है। ऐसे यात्रियों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
जानकारी के अनुसार भोपाल और मध्य प्रदेश के स्टेशनों से करीब 32 से अधिक ट्रेनें गुजरेंगी, यह वह ट्रेनें हैं जो मध्य प्रदेश के करीब 50 से अधिक स्टेशनों से होकर गुजरती हैं। इन ट्रेनों की हालत की बात की जाए तो इसमें भी 70 प्रतिशत से अधिक ट्रेनों में डेढ़ से दो महीने की वेटिंग चल रही है। वहीं, आरकेएमपी से रीवा जाने वाली स्पेशल ट्रेन में पांच दिन बाद सभी श्रेणियों में सीटें उपलब्ध हैं।
पुणे-गोरखपुर के मध्य ग्रीष्मकालीन स्पेशल ट्रेन
गाड़ी संख्या 01431/01432 पुणे-गोरखपुर-पुणे के मध्य 29 जून 2024 तक दोनों दिशाओं में 13-13 ट्रिप कुल 26 ट्रिप ग्रीष्मकालीन स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है। इसमें 01431 पुणे-गोरखपुर विशेष गाड़ी (13 ट्रिप)- यह विषेष गाड़ी 28 जून तक तक प्रत्येक शुक्रवार और 01432 गोरखपुर-पुणे विशेष गाड़ी (13 ट्रिप)-यह विषेष गाड़ी 29 जून तक प्रत्येक शनिवार को गोरखपुर से चलाई जा रही है।

यह ट्रेन दोनों दिशाओं में दौंड छोर लाइन, अहमदनगर, बेलापुर, कोपरगांव, मनमाड़, भुसावल, खण्डवा जंक्शन, इटारसी, भोपाल, बीना, वीरांगना लक्ष्मीबाई जंक्शन, उरई, कानपुर सेन्ट्रल, लखनऊ, गौंडा, मनकापुर, बस्ती एवं खलीलाबाद स्टेशनों पर रूकेगी।
एलटीटी-गोरखपुर ग्रीष्मकालीन स्पेशल ट्रेन : गाड़ी संख्या 01123/01124 लोकमान्य तिलक टर्मिनस-गोरखपुर के मध्य 29 जून तक दोनों दिशाओं में 13-13 ट्रिप कुल 26 ट्रिप ग्रीष्मकालीन स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही है। 01123 लोकमान्यतिलक टर्मिनस-गोरखपुर विशेष गाड़ी (13 ट्रिप)- 28 जून तक प्रत्येक शुक्रवार को लोकमान्य तिलक टर्मिनस से 01124 गोरखपुर-लोकमान्यतिलक टर्मिनस विशेष गाड़ी (13 ट्रिप) – यह विषेष गाड़ी 29 जून तक प्रत्येक शनिवार को गोरखपुर से चलाई जा रही है।
इन स्टेशनों पर लेगी हॉल्ट : ट्रेन दोनों दिशाओं में थाने, कल्याण, इगतपुरी, नासिक रोड, भुसावल, खंडवा जंक्शन, इटारसी, भोपाल, बीना, वीरांगना लक्ष्मीबाई जंक्शन, ऊरई, कानपुर सेन्ट्रल, लखनऊ, गोंडा जंक्शन एवं बस्ती स्टेशनों पर रूकेगी।
रीवा-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन : गाड़ी संख्या 02185/02186 रीवा-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 15-15 ट्रिप चलाई जा रही है। गाड़ी संख्या 02185 रीवा-छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस साप्ताहिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन 28 जुलाई (प्रत्येक रविवार ) को रीवा स्टेशन से गाड़ी संख्या 02186 छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस- रीवा साप्ताहिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन 22 अप्रैल से 29 जुलाई (प्रत्येक सोमवार) को छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस स्टेशन से चलेगी।
इन स्टेशनों पर लेगी हॉल्ट : रास्ते में यह गाड़ी दोनों दिशाओं में सतना, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, गाडरवारा, पिपरिया, इटारसी, हरदा, खंडवा, भुसावल, मनमाड, कल्याण स्टेशनों पर रुकेगी।
रानी कमलापति-सहरसा साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन : गाड़ी संख्या 01663/01664 रानी कमलापति-सहरसा साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 10-10 ट्रिप चलाई जा रही है। गाड़ी संख्या 01663 रानी कमलापति-सहरसा साप्ताहिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन 22 अप्रैल से 24 जून (प्रत्येक सोमवार) को रानी कमलापति स्टेशन से और गाड़ी संख्या 01664 सहरसा-रानी कमलापति साप्ताहिक एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन 23 अप्रैल से 25 जून (प्रत्येक मंगलवार) को सहरसा स्टेशन से चलाई जाएगी।
इन स्टेशनों पर लेगी हॉल्ट : रास्ते में यह गाड़ी दोनों दिशाओं में मानसी, बेगुसराय, बरौनी,हाजीपुर, पाटलिपुत्र, दानापुर, आरा, बक्सर, पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, प्रयागराज छिवकी, मानिकपुर, सतना, कटनी, जबलपुर, इटारसी, नर्मदापुरम स्टेशनों पर रुकेगी।

ए और बी फॉर्म पर मायावती के फर्जी साइन करके बने बसपा उम्मीदवार

आंवला लोकसभा सीट से खुद को बसपा बताकर फर्जी नामांकन-पत्र भरने वाले सत्यवीर सिंह और सपा के प्रत्याशी नीरज मौर्य के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी समेत अन्य कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। मामला बसपा के अधिकृत प्रत्याशी आबिद अली की शिकायत पर दर्ज हुआ।
शिकायत में अली ने बताया- उन्हें बसपा ने अधिकृत प्रत्याशी तय किया। फॉर्म-ए और बी जारी किया, जबकि शाहजहांपुर के जलालाबाद निवासी सत्यवीर सिंह ने भी खुद को आंवला लोकसभा सीट से बसपा का प्रत्याशी बताया है। पुलिस जांच हुई। पता चला सत्यवीर सिंह ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर फॉर्म ए और फॉर्म बी को सिंबल अथॉरिटी के रूप में अपने नामांकन-पत्र के साथ लगाया था। इन फॉर्म पर बसपा सुप्रीमो मायावती के फर्जी हस्ताक्षर भी कर दिए थे। मामला मायावती तक पहुंचा। उन्होेंने सिंबल को लेकर जिलाध्यक्ष राजीव कुमार से बात की। आबिद अली को अधिकृत उम्मीदवार बताया। अली का फॉर्म जांच में सही पाया गया, जबकि सत्यवीर सिंह का फर्जी। पूरे मामले में सपा प्रत्याशी नीरज मौर्य का नाम सामने आया। आरोप है कि मौर्य के इशारे पर ही सिंह बसपा के फर्जी प्रत्याशी बने। फर्जी दस्तावेज तैयार कराने और साजिश रचने में मौर्य शामिल थे, इसीलिए दोनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 120बी, 420, 467, 468, 471, लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1950, 1951, 1989 की धारा 125 ए के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

आईपीएल मैच के बीच गोल्डन टेंपल पहुंचीं नीता अंबानी

अमृतसर। चंडीगढ़ के मोहाली स्टेडियम में चल रहे मुंबई इंडियंस और पंजाब किंग्स 11 के बीच चल रहे मैच के दौरान नीता अंबानी अचानक अमृतसर पहुंच गईं। यहां नीता अंबानी ने गोल्डन टेंपल का रुख किया और अपनी टीम के लिए दुआ मांगी। ये पहली बार नहीं है, बीते कढछ सीजन में भी चंडीगढ़ में मैच को बीच में छोड़ नीता अमृतसर पहुंच गई थी। नीता अंबानी जीन्स व वाइट टीशर्ट में पहुंची, वहीं उन्होंने अपना सिर ढंकने के लिए पिंक रंग की चुन्नी ले रखी थी। नीता अंबानी के आने की सूचना के बाद गोल्डन टेंपल टॉस्क फोर्स को भी अलर्ट किया गया। नीता अंबानी की पर्सनल सिक्योरिटी के अलावा उन्हें टास्क फोर्स ने भी सुरक्षा मुहैया करवाई।

Scroll to Top
Verified by MonsterInsights